गुरु दिवस पर सुन्दर सन्देश !

  • गुमनामी के अंधेरे में था,
    पहचान बना दिया,
    दुनिया के गम से मुझे अनजान बना दिया,
    उनकी ऐसी कृपा हुई,
    गुरु ने मुझे एक अच्छा,
    इंसान बना दिया !

जो बनाये हमें इंसान,
और दे सही गलत की पहचान।
देश के उन निर्माताओं को
हम करते हैं शत शत प्रणाम।

  • आपने सिखाया पढ़ना आपने सिखाई लिखाई
    गणित भी जाना आपसे आपने ही भूगोल बतायी
    बारंबार नमन करता हूँ, शिक्षक दिवस की स्वीकार करें बधायी।

 

  • गुरूदेव के श्रीचरणों में
    श्रद्धा सुमन संग वंदन
    जिनके कृपा नीर से
    जीवन हुआ चंदन
    धरती कहती, अंबर कहते
    कहती यही तराना
    गुरू आप ही वो पावन नूर हैं।
    जिनसे रौशन हुआ जमाना।

Related posts:

Leave a Reply